सोमवार, 4 जून 2018

शिरोरेखा

मौन इसलिए भी नहीं पढ़ा जाता क्योंकि उसमें अक्षर नहीं होते.....
केवल शिरोरेखा होती है ....दूर तक

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यात्रा

प्रेम सबसे कम समय में तय की हुई सबसे लंबी दूरी है... यात्रा भी मैं ... यात्री भी मैं