गुरुवार, 22 जून 2017

डर....

जितना जुड़ोगे .....उतना टूटोगे
खो देने का डर जुड़ने नहीं देगा..... जकड़ देगा
इश्क़ ...तुम्हें दीपक सा बहा दिया आज
जलते रहो आस पास ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

हमेशा....

तुमने हर बार मुझे कम दिया और मैंने हर बार उससे भी कम तुमसे लिया। ना तुम कभी ख़ाली हुए .... ना मैं कभी पूरी हुई। हम यूँ ही बने रहें....हमेश...