सोमवार, 18 जुलाई 2016

हुनर.....

दिल खोलकर कुछ कर जाने के लिए .......
सिर्फ इक हुनर सीख लीजिये....
अपने कान बंद कर लीजिये 

हद से गुजर जाइयेगा
अपना कद बढ़ा पाइएगा

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

लिपि

दुःख .... छोटी लिपि का अत्यंत बड़ा शब्द