Follow by Email

रविवार, 8 मई 2016

समुन्दर.....

जा जा कर लौट आना...... कोई तुमसे सीखे 
तुम कोई .....कम समुन्दर रहे हो मेरे लिए ?

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें