बुधवार, 30 मार्च 2016

ज़िन्दगी......

किस बुत तराश ने बनाया है
नायाब , हर हुनर लगाया है
इक खूबसूरत नाम देके "ज़िन्दगी" को
हर शख्स , खूब आज़माया है

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

सादगी

सादी सी बात सादगी से कहो न यार ....   जाने क्या क्या मिला रहे ..... फूल पत्ते   मौसम बहार सूरज चाँद रेत समंदर दिल दिमाग स...