शुक्रवार, 5 फ़रवरी 2016

वो कहते हैं ...

वो कहते हैं ...
 परखना मत ,
 परखने से कोई अपना नहीं रहता   
 ये भी सच है की
  परख लो तो ,
 कभी अपनी ,
 कभी एक दूसरे की नजरों में 
 गिरने का डर नहीं रहता 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

अद्धभुत हूँ मैं

खूबसूरत नहीं हूँ... मैं    हाँ ....अद्धभुत जरूर हूँ   ये सच है कि नैन नक्श के खांचे में कुछ कम रह जाती हूँ हर बार   और जानबूझ करआंकड़े टा...