रविवार, 14 फ़रवरी 2016

तलाश .....

तलाश .....
सिर्फ , सुकून की होती 
 नाम ......
रिश्ते को , मिले , ना मिले  
पहचान......
रूह को , रूह देगी
आश्ना ......
दिल को , मिले , ना मिले   

5 टिप्‍पणियां:

हमेशा....

तुमने हर बार मुझे कम दिया और मैंने हर बार उससे भी कम तुमसे लिया। ना तुम कभी ख़ाली हुए .... ना मैं कभी पूरी हुई। हम यूँ ही बने रहें....हमेश...